Showing posts with label Love is life. Show all posts
Showing posts with label Love is life. Show all posts

Love इश्क

हम उनके दिल पर राज़ करते थे,
मेरा दिल जिनका गुलाम आज भी है।
तुम को चाहने की वजह कुछभी नहीं,
बस इश्क़ की फितरत है बेवजह होना।इश

तुम्हारी आँखों में बसाहै आशियाना मेरा,अगर ज़िन्दा रखना चाहो तो कभी आँसू मत लाना।इश्ui

गुफ्तगू उनसे होती यह किस्मत कहाँ,ये भी उनका करम है कि वो नज़र तो आये।. सजा है मौसम तुम्हारी महक से आज फिर;लगता है हवायें तुम्हेंछू कर आयी हैं।इश्

चुपके चुपके पहले वो ज़िन्दगी में आते हैं;मीठी मीठी बातों से दिल में उतर जाते हैं;बच के रहना इन हुस्न वालों से यारो;इन की आग में कई आशिक जल जाते हैं।

rकौन सी बात है जो उस में नहीं,उस को देखे मेरी नज़र सेकोई।
~Shahryarइश्कअगर तुम्हें यकीन
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

याद रखना ही मोहब्बत में नहीं है सब कुछ,
भूल जाना भी बड़ी बात हुआ करती है।
~Jamaal Ehsani
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

जिस को जाना ही नहीं उस को ख़ुदा कैसे कहें;और जिसे जान लिया हो वो ख़ुदा कैसे हो।
~Shehzad Ahmedइश्क
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मेरी यादो मे तुम हो,
या मुझ मे ही तुम हो,
मेरे खयालो मे तुम हो,
या मेरा खयाल ही तुम हो,
दिल मेरा धडक के पूछे,
बार बार एक ही बात,
मेरी जान मे तुम हो,
या मेरी जान ही तुम हो।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

अज़ीज़ इतना ही रखो
कि जी संभल जाये,
अब इस कदर भी ना चाहो
कि दम निकल जाये।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मुझको चाहते होंगे और भी बहुत लोग,
मगर मुझे मोहब्बत सिर्फ
अपनी मोहब्बत से है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

दूर रह कर भी जो
समाया है मेरी रूह में;
पास वालों पर वो शख्स
कितना असर रखता होगा।
~Surjit Patar
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

यह मेरा इश्क़ था
या फिर दीवानगी की इन्तहा,
कि तेरे ही करीब से गुज़रगए
तेरे ही ख्याल से।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

कर दे इश्क़ में अपने मदहोश तरह कि,
होश भी आने से पहले इज़ाज़त माँगे।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मोहब्बत का कोई रंग नहीं
फिर भी वो रंगीन है,
प्यार का कोई चेहरा नहीं
फिर भी वो हसीन है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

होगी कितनी चाहत उस दिल में,
जो खुद ही मान जाये
कुछ पल खफा होने के बाद।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मत देखो हमें तुम यूँ इसकदर,
इश्क़ तुम कर बैठोगे
और इलज़ाम हम पे लग जायेगा।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

देख लेते हो मोहब्बत से यही काफी है,
दिल धड़कता है सहूलत से यही काफी है,
हाल दुनिया के सताए हुए कुछ लोगों का,
पूछ लेते हो शरारत से यही काफी है।
~Badar Munirइश्क
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ,
मुझे तुम से मोहब्बत है बताना भूल जाता हूँ,
तेरी गलियों में फिरना इतना अच्छा लगता है,
मैं रास्ता याद रखता हूँ
ठिकाना भूल जाता हूँ।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

अदा है, ख्वाब है, तकसीम है, तमाशा है;
मेरी इन आँखों में एक शख्स बेतहाशा है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

बैठे हैं दिल में ये अरमां जगाये,
कि वो आज नजरों से हमें अपनी पिलायें;
मजा तो तब ही पीने का यारो,
इधर हम पियें और नशा उनको हो जाये।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मुद्दत के बाद उसने जो आवाज़ दी मुझे,
कदमों की क्या बिसात थी,
साँसे ठहर गयीं।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मैंने अपने आप को
हमेशा बादशाह समझा,
एहसास तब हुआ
जब तुझे माँगा फकीरों की तरह |
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तेरे जल्वों ने मुझे घेर लिया है ऐ दोस्त,
अब तो तन्हाई के लम्हे भी हसीं लगते हैं।
~Seemab Akbarabadi
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

ये न जाने थे कि उस महफ़िल में दिल रह जाएगा,
हम ये समझे थे चले आएँगेदम भर देख कर।
~Mamnoon Nizamuddin
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

छीनकर हाथों से जाम वो इस अंदाज़ से बोली,
कमी क्या है इन होठों में जो तुम शराब पीते हो।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

ये याद है तुम्हारी या यादों में तुम हो,
ये ख्वाब हैं तुम्हारे या ख्वाबों में तुम हो,
हम नहीं जानते हमें बस इतना बता दो,
हम जान हैं तुम्हारी या हमारी जान तुम हो।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

इश्क़ पर ज़ोर नहीं है ये वो आतश ग़ालिब,
कि लगाए न लगे और बुझाए न बने।
~Mirza Ghalib
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मैं कुछ कहूँ और तेरा ज़िक्र ना आये,
उफ्फ, ये तो तौहीन होगी, तेरी चाहत की।
www.achhiblog.blogspot.in
¤¤¤¤¤¤~°~ ¤¤¤¤¤¤~°~¤¤¤¤¤¤

ज़िन्दगी के किस मोड़ पर ले आई है यह जवानी भी,
जलना होगा या डूबना होगा "अक्स" इश्क़ आग भी है और पानी भी।
www.achhiblog.blogspot.in
¤¤¤¤¤¤~°~ ¤¤¤¤¤¤~°~¤¤¤¤¤¤

बे पनाह मोहब्बत का एक ही उसूल है,
मिले या ना मिले तू हर हाल मे कबूल है।
www.achhiblog.blogspot.in
¤¤¤¤¤¤~°~ ¤¤¤¤¤¤~°~¤¤¤¤¤¤

सब पूछते हैं मुझ से क्यों रातों को मैं जागता हूँ और दिन में खोया हुआ सा रहता हूँ,
चुप रहूँ या कह दूँ अब सब से
कि इस बेचैन दिल की वजह तुम हो।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर,
कसूर तो उस चेहरे का है जो सोने नही देता।
~Anu Sood
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तेरा अक्स गढ़ गया है आँखों में कुछ ऐसा,
सामने खुदा भी हो तो
दिखता है हू-ब-हू तुझ जैसा।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मुझ से रूठकर वो खुश है
तो शिकायत ही कैसी,
अब मैं उनको खुश भी ना देखूं
तो हमारी मोहब्बत ही कैसी।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तुझे कोई और भी चाहे इस बात से
दिल थोड़ा जलता है,
पर फखर है मुझे इस बात पर
कि हर कोई मेरी पसंद पे ही मरता है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी,
ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तू होश में थी फिर भी हमें पहचान न पायी,
एक हम हैं कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

बे पनाह मोहब्बत का एक ही उसूल है,
मिले या ना मिले तू हर हाल मे कबूल है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

सब पूछते हैं मुझ से क्यों रातों को मैं जागता हूँ
और दिन में खोया हुआ सा रहता हूँ,
चुप रहूँ या कह दूँ अब सब से
कि इस बेचैन दिल की वजह तुम हो।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर,
कसूर तो उस चेहरे का है जो सोने नही देता।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तेरा अक्स गढ़ गया है आँखों में कुछ ऐसा,
सामने खुदा भी हो तो दिखता है हू-ब-हू तुझ जैसा।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

मुझ से रूठकर वो खुश है तो शिकायत ही कैस
अब मैं उनको खुश भी ना देखूं तो हमारी मोहब्बतही कैसी।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~         ~°~         ~°~ Love इश्क

तुझे कोई और भी चाहे इस बात से दिल थोड़ा जलता है,
पर फखर है मुझे इस बात पर कि हर कोई मेरी पसंद पे ही मरता है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूँ आवाज़ से तेरी,
ज़ब ज़ब सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई है।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

तू होश में थी फिर भी हमें पहचान न पायी,
एक हम हैं कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ,
मुझे तुम से मोहब्बत है बताना भूल जाता हूँ,
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

तेरी गलियों में फिरना इतना अच्छा लगता है,
मैं रास्ता याद रखता हूँ ठिकाना भूल जाता हूँ।
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

अदा है, ख्वाब है, तकसीम है, तमाशा है;
मेरी इन आँखों में एक शख्स बेतहाशा है |
www.achhiblog.blogspot.in
~°~       ~°~       ~°~ Love इश्क

कभी दिल मे,कभी दिमाग मे,कभी नजर मे रहो !

कभी दिल मे,
कभी दिमाग मे .....

कभी नजर मे रहो....
ये सब तुमहारे ही घर है.
किसी भी घर मे रहो.!!